Latest News
You are here: Home / News / रामनाथ कोविंद आसान जीत की ओर, PM मोदी, सोनिया और राहुल गांधी ने किया मतदान

रामनाथ कोविंद आसान जीत की ओर, PM मोदी, सोनिया और राहुल गांधी ने किया मतदान

देश के 14वे राष्ट्रपति के लिए संसद भवन और देश के अलग-अलग राज्यों की विधानसभाओं में मतदान जारी है जो शाम पांच बजे तक होगा. राष्ट्रपति चुनाव के लिए मुकाबला एनडीए के उम्मीदवार रामनाथ कोविंद और यूपीए की उम्मीदवार मीरा कुमार के बीच है. वोटों की गिनती 20 जुलाई को दिल्ली में होगी, जहां सभी बैलेट बॉक्स लाए जाएंगे. इसी दिन नतीजों का भी ऐलान होगा. राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी का कार्यकाल 24 जुलाई को खत्म हो जाएगा. राष्ट्रपति पद के लिए आज हो रहे मतदान में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मतदान किया. प्रधानमंत्री ने संसद भवन में स्थित मतदान केंद्र में मतदान किया.

इस चुनाव में विधायक और सांसद दलगत बंधनों से मुक्त होकर वोट कर सकते हैं, इस वजह से खुलकर क्रॉस वोटिंग हो रही है. समाजवादी पार्टी के निर्देशों के बावजूद मुलायम सिंह यादव के करीबी माने जाने वाले शिवपाल यादव ने कोविंद के समर्थन में वोट किया है.

वहीं ममता बनर्जी की त्रिणमूल कांग्रेस ने मीरा कुमार को समर्थन दिया है लेकिन त्रिपुरा के 6 टीएमसी विधायकों ने रामनाथ कोविंद को वोट दिया है. त्रिपुरा विधायक आशिष साहा ने कहा कि उन्होंने सीपीआई (एम), कांग्रेस और टीएमसी के अपराधों के खिलाफ प्रोटेस्ट के रूप में रामनाथ कोविंद को वोट किया है.

बिहार विधानसभा में राष्ट्रपति चुनाव के लिये वोटिंग समाप्त, सभी 241 विधायकों ने डाले वोट.

यूपी में मुलायम परिवार का कलह राष्ट्रपति चुनाव में भी नजर आया. अखिलेश की अपील के बावजूद शिवपाल खेमे ने खुलेआम क्रॉस वोटिंग की. शिवपाल यादव ने कहा, ‘नेताजी के इशारे पर मैं कोविंद को वोट डाल रहा हूं. और भी समाजवादी पार्टी के विधायक-सांसद कोविंद के समर्थन में वोट डालेंगे. मीरा कुमार ने मुझसे समर्थन नहीं मांगा, कोविंद ने मांगा था. कोविंद ज्यादा सेक्युलर हैं और समाजवादी भी है. पार्टी ने मेरी कोई राय नहीं ली, तो मैं क्यों मानूं.’

एआईएएम के सांसद असदुद्दीन ओवैसी ने कहा कि राष्ट्रपति पद के लिए वो मीरा कुमार को समर्थन दे रहे हैं. उन्होंने कहा, लेकिन ये इस पद के लिए गैर कांग्रेसी उम्मीदवार ज्यादा बेहतर होता.

झारखंड के रांची में चार विधायक सीधे जेल से वोट देने विधानसभा पहुंचे. जिन विधायकों ने जेल से आकर वोट डाला उनमें – संजीव सिंह, निर्मला देवी, प्रदीप यादव और एनोस एक्का शामिल हैं.

बहुजन समाजवादी पार्टी की प्रमुख मायावती ने राष्ट्रपति चुनाव के दौरान कहा, “चुनाव चाहे कोई भी जीते, राष्ट्रपति दलित होगा. यह हमारे मूवमेंट के लिए एक बड़ी जीत है.”

आईये जानते हैं राष्ट्रपति प्रत्याशियो के बारे में:

 

रामनाथ कोविन्द

  • दलित नेता हैं रामनाथ कोविंद
  • बीजेपी दलित मोर्चा के अध्यक्ष रहे
  • अखिल भारतीय कोली समाज के भी अध्यक्ष रहे
  • कानपुर की डेरापुर तहसील से आते हैं
  • दो बार राज्यसभा के सांसद रहे
  • बिहार के पूर्व राज्यपाल

मीरा कुमार

  • पूर्व उपप्रधानमंत्री जगजीवन राम की बेटी
  • भारतीय विदेश सेवा में अफ़सर रहीं
  • 1985 में पहली बार यूपी के बिजनौर से सांसद
  • चुनाव में रामविलास पासवान, मायावती को हराया
  • पांच बार लोकसभा की सांसद रहीं
  • मनमोहन सरकार में महिला-बाल कल्याण मंत्री
  • 2009 से 2014 के बीच लोकसभा स्पीकर
  • लोकसभा स्पीकर बनने वाली पहली महिला

कैसे होती है वोटों की गिनती…?

  • सांसदों को वोटिंग के लिए हरा और विधायकों को गुलाबी मतपत्र दिया जाता है
  • मतपत्र में सांसद और विधायक राष्ट्रपति को क्रम के अनुसार चुनते हैं
  • अगर तीन राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार हों
  • इसमें सांसद-विधायक तीन पर अपना क्रम डालते हैं… 1, 2, 3
  • अब देखा जाता है कि कौन सबसे ज़्यादा पहली पसंद है
  • जो पसंद में तीसरे नंबर पर होता है उसे बाहर कर दिया जाता है
  • तीसरे नंबर पर रहने वाले के वोट को पहले और दूसरे उम्मीदवारों में बांट दिया जाता है
  • जिसे 51 फ़ीसदी मत मिलते हैं उसकी जीत होती है
Scroll To Top

Hit Counter provided by laptop reviews