Latest News
You are here: Home / News / कांग्रेस-नेशनल कॉन्फ्रेंस का जम्मू-कश्मीर में गठबंधन टूटा

कांग्रेस-नेशनल कॉन्फ्रेंस का जम्मू-कश्मीर में गठबंधन टूटा

Congress Logo 01नई दिल्ली। जम्मू-कश्मीर में कांग्रेस और नेशनल कॉन्फ्रेंस का गठबंधन टूट गया है। कांग्रेस और नैशनल कॉफ्रेंस के बीच बीते कुछ समय से अनबन की खबरें आ रही थीं। लोकसभा चुनाव में करारी हार के बाद दोनों के बीच राजनीतिक द्वंद कुछ अधिक बढ़ गया था। राज्य की 87 सीट पर अक्टूबर में विधानसभा चुनाव होने हैं।

कांग्रेस ने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस कर अकेले चुनाव लड़ने का ऐलान किया। कांग्रेस का कहना है कि अक्टूबर में होने वाले विधानसभा चुनाव में अपने दम पर उतरेगी और राज्य की सभी 87 सीटों पर उम्मीदवार खड़े करेगी। हालांकि कांग्रेस ने ये कहा कि राज्य की उमर अब्दुल्ला सरकार को उनका समर्थन जारी रहेगा।

कांग्रेस नेता अंबिका सोनी ने कहा कि कांग्रेस सभी 87 सीटों पर अकेली चुनाव लड़ेगी। वहीं गुलाम नवी आजाद ने कहा कि दोनों पार्टियों का अलग होना अच्छा है अब दोनों एक दूसरे के भरोसे नहीं होंगे। गौरतलब है कि जम्मू-कश्मीर में द्विसदनीय व्यवस्था है। राज्य विधानसभा का छह वर्षों का कार्यकाल अगले साल जनवरी में पूरा हो रहा है। चुनाव इस साल के अंत तक होने वाले हैं। सरकार बनाने के लिए किसी को 44 सीटों की दरकार होती है। विधानसभा के सदस्य सीधे जनता द्वारा चुने जाते हैं, जबकि विधान परिषद के सदस्यों का चुनाव विधानसभा के 87 सदस्य करते हैं।

वहीं ये गठबंधन टूटने के बाद जम्मू कश्मीर के मुख्यमंत्री उमर अब्दुल्ला ने ट्वीट कर कहा कि 10 दिन पहले मैं सोनिया गांधी से मिला और उनका धन्यवाद किया। मैंने उन्हें नेशलन कॉन्फ्रेंस के इस फैसले की जानकारी दी कि हम चुनाव में अकेले लड़ेंगे। मैंने उन्हें ये भी बताया कि इस खबर की मैं सार्वजनिक तौर पर घोषणा नहीं करूंगा।

Scroll To Top
Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com

Hit Counter provided by laptop reviews