Latest News
You are here: Home / News / बिहार चुनाव: इंटरनल सर्वे में बीजेपी को 127 सीटें मिलने की उम्‍मीद

बिहार चुनाव: इंटरनल सर्वे में बीजेपी को 127 सीटें मिलने की उम्‍मीद

पटना: बिहार विधानसभा चुनाव के मद्देनजर बीजेपी की ओर से कराए गए एक इंटरनल सर्वे में जनता परिवार से कड़ी टक्कर मिलने की बात सामने आने के बाद पार्टी की नींद टूटी है। जातिगत समीकरण के आधार पर बीजेपी से अधिक मजबूत दिख रहे जनता परिवार से निपटने के लिए अब अध्यक्ष अमित शाह की टीम ग्राउंड जीरो पर काम कर रही है। एक अंग्रेजी अखबार में छपी रिपोर्ट के मुताबिक, आंतरिक सर्वे में बीजेपी को 127 सीटें मिलने की बात कही गई है।MODI-SHAH

सहयोगी टेंशन में

एनडीए की सहयोगी राष्ट्रीय लोक समता पार्टी (आरएलएसपी) आंकड़ों से चिंतित है। पार्टी ने पीएम नरेंद्र मोदी को चिट्ठी लिखकर यह मामला अपने हाथ में लेने को कहा है। पार्टी को लगता है कि अगर ऐसा नहीं हुआ तो बीजेपी पहले से ही यह चुनाव हार चुकी है। पार्टी के एक सीनियर नेता ने कहा, ”बीजेपी का कोई फिक्स्ड वोटर नहीं है। पार्टी के पास ओबीसी और मुसलमानों का वोट हासिल करने के लिए कोई प्रभावशाली चेहरा भी नहीं है।” वहीं, बीजेपी को उम्मीद है कि राज्य में लालू और नीतीश के गठजोड़ के खिलाफ एंटी इनकम्बेंसी (सत्ता विरोधी) लहर का फायदा मिलेगा।

बीजेपी ने कसी कमर

बीजेपी अब हर 15 दिन पर सर्वे कराएगी। बीजेपी सूत्रों ने बताया कि हर विधानसभा का अलग-अलग सर्वे करने और जरूरी आंकड़े जुटाने के लिए चार या पांच प्रोफेशनल्स की टीम बनाई गई है। यह टीम सीधे बीजेपी आलाकमान को रिपोर्ट करेगी। टीम अपने आंकड़े राज्य ईकाई से साझा नहीं करेगी। इसके अलावा, बिहार के बाहर की एक गैर राजनीतिक प्रोफेशनल्स की टीम भी हर विधानसभा का सर्वे कर रही है। इस टीम को सर्वे करने के लिए 100 लोग मिले हैं। यह टीम पार्टी के लिए बेहतर कैंडिडेट की पहचान करने का भी काम करेगी। इसके अलावा, नियमित तौर पर पावर प्वाइंट प्रेजेंटेशन के जरिए हर जानकारी अमित शाह के सामने रखेगी। बीजेपी की टेंशन इसलिए भी ज्यादा है क्योंकि इस टीम के निष्कर्ष बहुत सारे मामलों में राज्य ईकाई से उलट है।

Scroll To Top
Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com

Hit Counter provided by laptop reviews